Monday, 14 September 2020

भायंदर के क्वारंटाइन सेंटर में रेप

भायंदर के क्वारंटाइन सेंटर में रेप

  • आरोपी सिक्युरिटी गार्ड गिरफ्तार
भायंदर. पनवेल के क्वारंटाइन सेंटर में बलात्कार की वारदात की पुनरावृत्ति भायंदर में हुई है.यहां के मध्यवर्ती क्वारंटाइन सेंटर में एक महिला के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. नवघर थाने की पुलिस ने आरोपी सिक्युरिटी गार्ड ( बाउंसर) को गिरफ्तार कर लिया है.घटना साढ़े तीन माह पहले की है. महिला के गर्भवती होने और इसी कारण से उसका तलाक हो जाने के बाद मामला थाने पहुंचा. 
पीड़ित महिला 20 साल की है. अंधेरी से यहांं मायके में रहने आई थी. 25 मई को वह क्वारंटाइन सेंटर लाई गई थी.उसकी प्रसूता बहन की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद परिवार के बाकी 7 सदस्यों को क्वारंटाइन किया गया था. बाद में पीड़िता की बहन की 11 साल की बेटी की रिपोर्ट पॉजिटिव और बाकी सदस्यों की रिपोर्ट नेगेटिव आई. बहन की बेटी और अपनी बेटी के साथ पीड़िता क्वारंटाइन सेंटर में रुक गई. बाकी सदस्य घर चले गए.
गर्भवती होने के बाद सामने आया मामला 
आरोप है कि 2 जून को रात 10 बजे आरोपी सिक्युरिटी बाउंसर गर्म पानी देने आया और महिला का मुंह दबाकर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया. धमकाया कि किसी को यह बात बताई तो उसकी बेटी को जान से मार देगा.आरोप है कि 1 से 5 जून के बीच आरोपी ने महिला से 3 बार बलात्कार किया. आरोपी का नाम विक्रम शेरे (27) बताया गया है. डर वश महिला चुप रही. इस बीच वह गर्भवती हो गई.यह बात जब उसके पति को पता चली तो वह उसे तलाक दे दिया और बेटी को अपने साथ लेकर चला गया. इससे पीड़िता काफी व्यथित हो गई.उसने कुछ कर लेने की बात अपनी बुआ को बताई. उसकी बुआ ने उसे समझाया.बाद में स्थानीय समाजसेवक रमजान खत्री की मदद से मनपा कमिश्नर और महापौर से गुहार लगाई.उनके सलाह पर पुलिस में मामला दर्ज हुआ.खत्री ने कहा कि पीड़िता को प्रशासन आर्थिक मदद दे.उधर महापौर ने कहा कि पनवेल की घटना के बाद हमनें अपने यहांं क्वारंटाइन सेंटर में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित कर दी थी.तल और पहली मंजिल पर ही महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को रखा जाता है.उनकी सुरक्षा और उन्हें सुविधा मुहैया कराने के लिए महिला सुरक्षा रक्षक और कर्मचारी तैनात की गईं है. हालांकि यह घटना इससे पहले की है.महिलाओं की सुरक्षा के लिए और भी सभी तरह के जरूरी उपाय किये जायेंगे.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.