Monday, 14 September 2020

BHAYNDAR FOLLOW UP NEWS: कोविड सेंटर में वारदात:मुंबई में क्वारैंटाइन सेंटर में महिला के साथ गार्ड ने दो बार किया रेप, जानकारी मिलने के बाद पति ने दिया तलाक


    मुंबई से सटे मीरा रोड के क्वारैंटाइन सेंटर में एक महिला मरीज के साथ दो बार रेप करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इसमें कोविड सेंटर के गार्ड को गिरफ्तार कर लिया गया है। शनिवार को दर्ज हुई एफआईआर के बाद प्रदेश के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार को कहा है कि ऐसे मामलों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और इस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

    देशमुख का यह बयान विधान परिषद में उपसभापति नीलम गोरहे के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने इस घटना को लेकर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। गृहमंत्री ने कहा,"ठाणे पुलिस इस मामले को तुरंत देखे। नीलम जी पुलिस इस मामले पर कड़ी कार्रवाई करेगी। महिलाओं के खिलाफ होने वाली कोई भी वारदात बर्दाश्त नहीं की जाएगी।"

जून में हुई वारदात, अब हुई एफआईआर

नवघर पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर संपत पाटिल ने कहा कि मीरा रोड के कोविड केयर सेंटर में एक 20 वर्षीय महिला से रेप के आरोप में 27 वर्षीय सुरक्षा गार्ड को शनिवार को गिरफ्तार किया है। महिला के मुताबिक, वारदात जून में हुई थी, लेकिन महिला ने हिम्मत कर शनिवार को पुलिस स्टेशन आकर शिकायत दर्ज कराई है।

महिला का आरोप

शिकायत के अनुसार, पीड़िता, उसके 11 वर्षीय भतीजे और उसकी 10 महीने की बेटी को 24 मई को मीरा रोड में बने एक क्वारैंटाइन सेंटर में अलग-अलग रखा गया था। आरोपी गार्ड महिला को गर्म पानी और दूध देने के बहाने कमरे में घुसा और अकेले सोते देख उसके साथ जबरदस्ती की। इस मामले की जानकारी किसी और को देने पर बेटी को जान से मारने की धमकी भी दी।

रेप की जानकारी मिलने के बाद पति ने दिया तलाक

पीड़िता ने आरोप लगाया कि आरोपी ने 2 जून और 5 जून को उसके साथ दो बार रेप किया। इसके बाद महिला ठीक होकर अपने घर चली आई, लेकिन जब तक उसकी बेटी कोविड सेंटर में रही उसने किसी से इसकी जानकारी नहीं दी। बेटी के घर लौटने पर महिला ने अपने पति को इस बारे में बताया। आरोप है कि पति ने उसका साथ देने की जगह उसे तलाक दे दिया और बेटी को अपने साथ लेकर चला गया।

4 दिन की पुलिस हिरासत में आरोपी

इसके बाद, पीड़िता के परिवार ने स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता एल रमजान खत्री से संपर्क किया, जिन्होंने मीरा भयंदर महापौर ज्योत्सना हसनले और नागरिक आयुक्त डॉ. विजय राठौड़ को इस घटना के बारे में सूचित किया। इसके बाद खत्री ने पीड़िता के साथ मिलकर नवघर पुलिस से संपर्क किया, जिसके बाद भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (यौन उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज किया गया। इसके बाद, गार्ड को शनिवार को गिरफ्तार किया गया है और रविवार को ठाणे अदालत में पेश किया गया। उसे 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.