Tuesday, 8 September 2020

अंबरनाथ के विधायक ने उल्हासनगर के डंपिंग ग्राउंड को कल्याण पूर्व के उसटने गांव में मंजूर करवाया

  • शिवसेना विधायक बालाजी किणीकर के खिलाफ ग्रामीणों ने किया विरोध प्रदर्शन
मिथिलेश गुप्ता 
कल्याण- मलंगगढ़ और कल्याण पूर्व विधानसभा क्षेत्र की तलहटी में उसटने गांव में उल्हासनगर महापालिका के डंपिंग के खिलाफ ग्रामीणों ने आज विरोध प्रदर्शन किया। शिवसेना विधायक बालाजी किणीकर की मांग के खिलाफ ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन किया।
आपको बता दे कि, कल्याण के पास मलंगगढ़ क्षेत्र औद्योगिकीकरण से प्रभावित हुआ है। लेकिन अब इस क्षेत्र में 3 डंपिंग ग्राउंड आएंगे। इसलिए, प्राकृतिक सौंदर्य से सजा मलंगगढ़, यहां निवासियों और प्रकृति वन्यजीवों को खतरा है। इसलिए ग्रामीणों ने डंपिंग ग्राउंड का विरोध किया है। सह्याद्री की पर्वत श्रृंखलाओं में स्थित मलंगड क्षेत्र और उसके आसपास के जंगलों और पहाड़ी क्षेत्रों में वन्यजीव बड़ी मात्रा में हैं। कल्याण डोंबिवली मनपा का डंपिंग ग्राउंड भाल गांव में आएगी जबकि मुंबई मनपा की डंपिंग करवले गांव में आएगी और अब उल्लासनगर की डंपिंग ग्राउंड कल्याण पूर्व के उटसने गांव में आएगी... जिसे कल कैबिनेट की बैठक में मंजूरी दे दी गई। इसलिए, ग्रामीणों ने इसका विरोध किया और विधायक बालाजी किणीकर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। बालाजी किणीकर विधायक अम्बरनाथ के हैं, उल्हासनगर महानगरपालिका के लिए गांव में उटसने गांव में डंपिंग ग्राउंड लाए इसलिए ग्रामीणों विधायक किणीकर का निषेध किया । ग्रामीणों का कहना है कि ग्राम पंचायत गोद लिया, सुविधाएं देने के बजाय डंपिंग ग्राउंड लाया है। उसटने गांव में जहां डंपिंग ग्राउंड होना है उस जगह पर महाविद्यालय के साथ एक जिला परिषद स्कूल और अनेक घर भी प्रभावित होंगे। इसलिए, इलाके के लोगों ने डंपिंग ग्राउंड का कड़ा विरोध किया है। ग्रामीणों ने प्रतिक्रिया दी है कि विधायक बालाजी किणीकर ने हमें फंसाया हैं ।

SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 coment rios: