Tuesday, 5 May 2020

पियक्कड़ों की आफत



  • ठाणे और उल्हासनगर में शराब की बंद दुकानों के बाहर उमड़ा पियक्कड़ों का हुजूम, उड़ी लॉकडाउन की धज्जियां
  • कहीं-कहीं सुबह 5 बजे से लाइन में लगे लोग, दो किलोमीटर तक लंबी लाइन लगी
  • दिल्ली में महंगी हुई शराब, केजरीवाल सरकार ने 'स्पेशल कोरोना फीस' नाम से MRP पर लगाया 70% टैक्स

स्नैपशॉट
लॉकडाउन के तीसरे फेज में शर्तों के साथ शराब बिक्री की दी गई है छूट, ठाणे अछूता

ठाणे - लॉकडाउन का तीसरा चरण सोमवार से शुरू हो गया। लॉकडाउन के बीच राज्य सरकारों को कई रियायतें तो दी गईं हैं वहीं आज से शराब की दुकानें भी खुल गई है। शराब की दुकानें खुलते जो नजारा देखने को मिला उससे तो एक बात साफ थी कि पियक्कड़ों को शराब की दुकानें खुलने का इंतजार कितनी बेसब्री से था। वहीं सोशल मीडिया पर भी आज #LiquorShops ट्रेंंड कर रहा है। इतना ही नहीं कई लोगों ने तो शराब की दुकानों की पूजा भी की। कई जगह तो पियक्कड़ों पर ऐसा नशा छाया कि वो सोशल डिस्टेेसिंग को ही भूल गए।
सोमवार की सुबह जैसे ही शराब की दुकाने खुली लोग उस पर टूट पड़े। पियक्कड़ों के मन में न कोरोना का खौफ दिखा न और न प्रशाशन का। ये लोग सबसे पहले शराब पीकर अपनी महीने भर की खुराक पूरा कर लेना चाहते हैं। हैरानी की बात तो यह है कि ठाणे, उल्हासनगर में जिलाधिकारी ने शराब की दुकानें न खोलने का आदेश दिया है। इसके बावजूद भी शराब की तलब इतनी कि बंद दुकानों के बाहर भी पियक्कड़ों की भारी भीड़ नजर आई। ये सूरते हाल सिर्फ उल्हासनगर की नही है बल्कि पूरे देश का है। कर्नाटक में तो दुकानें खुलने से पहले नारियल-अगरबत्ती चढ़ाकर पूजा करते नजर आए। दिल्ली के कई इलाकों में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। ईस्टर्न रेंज में शराब की सभी दुकानें बंद करवा दी गईं। आंध्रप्रदेश के चित्तूर में भी पुलिस को सख्ती करनी पड़ी। वहीँ दिल्ली में मंगलवार से शराब महंगी हो जाएगी. केजरीवाल सरकार ने शराब पर स्पेशल कोरोना फीस लगाने का फैसला लिया है. ये फीस MRP पर 70 फीसदी लगेगी. दिल्ली सरकार का ये फैसला मंगलवार से लागू होगा. इससे पहले हरियाणा सरकार ने भी शराब पर कोविड-19 सेस लगाकर लोगों को तगड़ा झटका दिया था.
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का कहना है कि मौजूदा हालात को देखते हुए दिल्ली में सख्ती की जरूरत है। कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए दिल्ली सरकार को लॉकडाउन में कम से कम छूट देनी चाहिए। दोनों शहरों में शराब की दुकानों के बाहर लंबी लाइनें लग गईं। मुंबई में लोग 6 घंटे लाइन में लगे रहे लेकिन, दुकानें नहीं खुलीं। एक्साइज विभाग की ओर से स्थिति साफ नहीं होने की वजह से दुकानें बंद रहीं। एक दुकानदार ने बताया कि रविवार शाम एक्साइज विभाग ने सर्कुलर जारी कर कहा कि शराब नहीं बिकेगी। स्थिति साफ होने तक हम दुकान नहीं खोलेंगे।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.