पति को नहीं बर्दाश्त हार



  • लूडो में लगातार हारने से गुस्साए पति ने पत्नी की बेरहमी से की पिटाई
  • महिला को रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट, अस्पताल में भर्ती

वडोदरा- देश में लॉकडाउन लागू होने के चलते लोगों के बीच ऑनलाइन लूडो खेलने का चलन बढ़ता जा रहा है, लेकिन इसे लेकर लोगों के बीच विवाद की खबरें भी सामने आ रही हैं। ऐसी ही एक खबर गुजरात के वडोदरा से आई। जहां लूडो में लगातार अपनी पत्नी से हारने पर पति ने उसकी बुरी तरह पिटाई कर दी।
पिटाई से 24 वर्षीय महिला को रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट लगी और उसे फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया। 181 अभयम हेल्पलाइन के काउंसलरों के अनुसार, महिला परिवार की आय में योगदान के लिए वेमाली स्थित अपने घर में बच्चों को ट्यूशन पढ़ती है।
महिला ने अपने पति को सोसायटी के अन्य लोगों के साथ समय बिताने के बजाए उसके साथ मोबाइल पर लूडो खेलने के लिए कहा। वह चाहती थी कि लॉकडाउन के दौरान उसका पति घर पर रहे और परिवार के साथ वक्त बिताए।
उन्होंने बताया कि लूडो के खेल में महिला ने अपने पति को तीन से चार बार लगातार हरा दिया। इससे गुस्साए पति ने उसके साथ कहासुनी शुरू कर दी, जो देखते ही देखते बढ़ गई। इसके बाद उसने उसे बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया और पिटाई से महिला को रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट लग गई।
काउंसलर ने बताया उसके अहंकार को यह सोचकर दुख पहुंचा कि उसकी पत्नी ने उसे खेल में मात दे दी है और वह उससे अधिक बुद्धिमान है। साथ ही वह परिवार की आय में भी योगदान दे रही है।
उन्होंने बताया कि महिला का पति एक इलेक्ट्रॉनिक्स की कंपनी में काम करता है और केवल इतना ही कमा पाता है जिससे दोनों का गुजारा चल सके। उन्हें अपने होम लोन की किश्त भी चुकानी होती थी, जिसके चलते महिला ने बच्चों को ट्यूशन पढ़ाना शुरू कर दिया और ब्यूटीशियन का कोर्स भी किया।
काउंसलर ने बताया कि इलाज के बाद महिला अपने पति के घर जाने बजाय अपने माता-पिता के घर चली गई। उन्होंने बताया कि इससे पहले वह कुछ दस्तावेज इकट्ठा करने के लिए अपने घर जाना चाहती थी।
परियोजना समन्वयक चंद्रकांत मकवाना ने कहा कि हमारे काउंसलरों ने महिला को पुलिस में मामला दर्ज करवाने या मामले को रफा-दफा करने का विकल्प दिया। इस मामले में पति ने महिला से माफी मांग ली है और उसने भी मामला दर्ज नहीं करवाने का फैसला किया है। इसलिए हमने उन्हें एक साथ रहने का परामर्श दिया है।
काउंसलर ने महिला के पति को चेतावनी दी कि शारीरिक प्रताड़ना एक अपराध है और अगर वह ऐसा करता है तो गिरफ्तार भी हो सकता है। उन्होंने कहा कि वह इस बात को समझ गया और उसने अपनी पत्नी से माफी मांग ली। पत्नी भी मायके से पति के घर लौटने के लिए राजी हो गई है।

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget