दुनिया में करीब 27 करोड़ प्रवासी हैं जिनमें सबसे अधिक भारतीय हैं





नई दिल्‍ली। प्रवासियों और शरणार्थियों को लेकर सामने आई संयुक्‍त राष्‍ट्र की की वर्ल्‍ड माइग्रेशन रिपोर्ट 2020 रिपोर्ट बेहद खास है। ये रिपोर्ट यूएन की ही सहयोगी संस्‍था इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑन माइग्रेंशन (International Organization for Migration) ने तैयार की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया में करीब 27 करोड़ प्रवासी हैं जिनमें सबसे अधिक भारतीय हैं। इसके अलावा बांग्‍लादेश को लेकर भी इसमें कुछ चौंकाने वाले तथ्‍य मौजूद हैं। इसमें कहा गया है कि दुनिया में सबसे अधिक राज्‍यविहीन (Stateless Peoples) लोगों में बांग्‍लादेश के लोग हैं।

संयुक्‍त राष्‍ट्र की की वर्ल्‍ड माइग्रेशन रिपोर्ट 2020 में केवल प्रवासियों का ही जिक्र नहीं किया गया है बल्कि इसमें दुनिया भर में फैले शरणार्थियों की भी संख्‍या बताई गई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2018 में पूरी दुनिया में करीब ढाई करोड़ शरणार्थी थे। ये वो शरणार्थी है जो यूएनएचसीआर और UNRWA के तहत हैं। इससे सबसे चौंकाने वाला तथ्‍य ये भी है कि शरणार्थियों में सबसे ज्‍यादा करीब 52 फीसद 18 वर्ष से कम उम्र के हैं। इन लोगों के अपना देश छोड़कर दूसरे देश में बसने की कोशिश की वजह हिंसा, हमले, गृहयुद्ध रहा है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक गृहयुद्ध की वजह से अपना घर छोड़ने वालों की संख्‍या 4 करोड़ को भी पार कर चुकी है। यह संख्‍या 1998 के बाद से सबसे अधिक है। इसमें सबसे अधिक 60 लाख सीरिया से हैं। इसके बाद करीब 51 लाख लोग कोलंबिया और फिर करीब 30 लाख लोग कांगो के हैं। शरणार्थियों की गिनती और संख्‍या कई जगह और वजहों से अलग अलग है।

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget