Tuesday, 5 February 2019

उमपा का 'उल्हास'हीन बजट


             549 करोड़ का बजट किया गया पेश 

आचार संहिता के कारण अप्रैल की बजाय फरवरी में पेश किया गया बजट 

उल्हासनगर (हितेश भगतानी):उल्हासनगर के मनपा आयुक्त अच्युत हांगे ने मंगलवार को वर्ष २०१९-२० के लिए ५४९ करोड़ रुपए का बजट पेश किया| इसे स्थायी समिति अध्यक्ष जया प्रकाश मखीजा के सुपूर्द किया| महाराष्ट्र सरकार के आदेश के बाद, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के लिए उल्हासनगर के लोगों पर नए कर लगाए गए हैं|
मनपा चुनाव के कारण हर वर्ष अप्रैल महिने में स्थायी समिती के सामने जानेवाला बजट इस बार लोकसभा चुनाव के आचार संहिता को ध्यान में रखकर फरवरी महिने के शुरुवात में अच्युत हांगे ने प्रस्तुत किया है| इस बजट में मालमत्ता व पानीपट्टी कर से १५८ करोड़ रुपए की आय अपेक्षित की गई है| पिछले वर्ष यह आय १०० करोड़ रुपए तक भी नहीं पहुंच पाया था|
इस कारण मनपा आयुक्त अच्युत हांगे ने १० फरवरी को अभय योजना खत्म होने के बाद किस प्रकार से वसूली पर ध्यान देंगे, इस पर सबकी नजर है|
नए बांधकाम के परवाने के माध्यम से ९० करोड़ रुपए की आय अपेक्षित है| शहर विकास नियमावली अभी तक शासन की तरफ से न आने के कारण चालू आर्थिक वर्ष में नए बांधकाम को दिए गए परवाना के माध्यम से लगभग ४ करोड़ रुपए मनपा की तिजोरी में जमा हुए है|
स्थानिक संस्था कर के माध्यम से २० करोड़ रुपए की आय अपेक्षित है| शासन द्वारा मिलनेवाले विविध अनुदानों के माध्यम से २४३ करोड़ रूपए और अमृत योजना के द्वारा १२ करोड़ रुपए मनपा की तिजोरी में आने की अपेक्षा आयुक्त हांगे ने व्यक्त की है| इसी प्रकार पे ऍण्ड पार्किंग, आरक्षित भूखंड पर विकसित किए गए मालमत्ता को मनपा के कब्जे में लेकर उसकी निलामी करना ऐसे विविध उपक्रमों से करोड़ों रुपयों की आय मनपा करेगी, ऐसा आयुक्त हांगे ने बताया| २०१८-१९ इस वर्ष में ९०० करोड़ रुपयों का बजट महासभा ने पारित किया था| मनपा के कुल आय में से १२२ करोड़ रुपए कर्मचारियों के वेतन और प्रशासकीय खर्च में प्रयोग होगा| एमआईडीसी द्वारा पानी आपूर्ती बिल के लिए ३३.४० करोड़ रुपए, रास्तों के विकास के लिए ५१ करोड़ रुपए और कचरा परिवहन करने के लिए ४४ करोड़ रुपए तय किए गए है| शिक्षण समिती के लिए ६१ करोड़ रुपए, उद्यानों के विकास के लिए ६ करोड़ रुपए रखे गए है|
महानगरपालिका की मूलभूत सेवा व रास्ता अनुदान से २४ करोड़ रुपए खर्च करके रास्तों का नूतनीकरण किया जाएगा| ओटी चौक से रामायण नगर, रोटरी गार्डन से गुरुद्वारा, सती अपार्टमेंट से भारत सिनेमा, बस स्टॉप से महाराष्ट्र मित्र मंडल, साधूबेला स्कुल से शाला क्रमांक २०, न्यू इंग्लिश स्कुल से निर्मल कुंज, वाको कम्पाऊंड से गांवदेवी माता मंदिर, गुरुतेग बहादूर नगर, सपना टॉकिज से रिजेन्सी हॉल, रमाबाई आंबेडकर नगर से हनुमान मंदिर, इंद्रलोक अपार्टमेंट से जपानी बाजार, समर्पण अपार्टमेंट से एमएसईबी कार्यालय के रास्तों का इन कामों में समावेश है| इसी प्रकार डांबरी रास्तों के गड्ढों को भरने के लिए लगभग १० करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है| मनपा परिवहन सेवा के लिए अमृत योजना से १० मिनी बस खरीदी की जाएगी| घनकचरों को नष्ट करने के लिए प्रकल्प तैयार करने के २ करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है| इस बजट में विविध विकास कामों पर ५४९.३७ करोड़ रुपए खर्च होंगे और ८ लाख रुपए मनपा के खाते में बचेंगे|
अमृत योजना हरित क्षेत्र विकास योजना के अंतर्गत एक करोड़ रुपए की निधी मनपा को प्राप्त हुआ है| इस योजना के अंतर्गत ५३१५ वृक्ष लगाने है और इन वृक्षों को सही सलामत रखने के लिए सुविधा भी प्रदान की जाएगी| शहर के १७ उद्यानों के विकास के लिए ३ करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है|

SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 coment rios: