राहत पर आफत


    विदेशी मुद्रा की स्मगलिंग के आरोप में ED ने भेजा नोटीस

नई दिल्ली: अपनी आवाज के दम पर भारत के लोगों के दिलों में राज करने वाले पाकिस्तानी मूल के सूफी गायक राहत फतेह अली खान पर बड़ा आरोप लगा है। राहत पर विदेशी मुद्रा की स्मगलिंग करने का आरोप है। आरोप के मुताबिक उन्होंने तीन सालों तक भारत से विदेशी मुद्रा की स्मगलिंग की है। बता दें कि राहत फतह अली खान अपनी आवाज के चलते भारत और पाकिस्तान के अलावा बी कई देशों में जाने जाते हैं।
एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राहत फतेह अली खान को अवैध तरीके से भारत में 3 लाख 40 हजार अमेरिकी डॉलर मिले थे। इन पैसों में से उन्होंने 2 लाख 25 हजार डॉलर की स्मगलिंग की। मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) कर रहा है। ईडी ने फेमा (Foreign Exchange Management Act) के तहत नोटिस भेजकर राहत से 2 करोड़ 61 लाख रुपए की राशि पर जवाब मांगा है।
राहत के जवाबों से संतुष्ट होने पर ईडी 300 प्रतिशत तक जुर्माना उन पर ठोंक सकता है। जुर्माना भरने की स्थिति में राहत के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी हो  सकता है और भारत में होने वाले उनके कार्यक्रम पूरी तरह रुक सकते हैं। जांच में पता चला है कि दिल्ली के IGI एयरपोर्ट पर 2011 में राहत के पास से सवा लाख डॉलर बरामद हुए थे, इन पैसों के बारे में राहत कोई दस्तावेज उपलब्ध नहीं करा पाए थे।
ईडी की जांच में राहत मीट कारोबारी मोइन कुरैशी से भी राहत के संबंधों का खुलासा हुआ है। राहत मोइन की बेटी की शादी में भी आए थे। बता दें कि मोइन कुरैशी की जांच को लेकर ही इस समय सीबीआई (सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टीगेशन) में घमासान मचा हुआ था। ईडी को जांच में पता चला है कि भारत में कार्यक्रमों की आड़ में राहत विदेशी मुद्रा की स्मगलिंग करते हैं। बता दें कि इससे पहले भी ईडी पूछताछ के लिए राहत को नोटिस जारी कर चुकी है, लेकिन तब उन्होंने सहयोग नहीं किया था। इस बीच राहत के पैसे बदलवाने वाले मैनेजर की मौत के चलते भी जांच में देरी हुई थी।

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget