अवैध तरीके से क्रिप्टो करन्सी बनानेवाले गिरोह का पर्दाफाश!

२५०० निवेशकों से लूटे ५०० करोड़
ठाणे(दिनेश वर्मा ): ठाणे क्राईम ब्रांच युनिट -१ ने अवैध तरीके से क्रिप्टो करन्सी बनाने वाले और लोगों को बेेचकर उसे फंसाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है| मिली जानकारी के अनुसार प्रवीण मुकुटलाल अग्रवाल(४०,दिल्ली) ने दिनांक ४-६-२०१८ दिन अगस्त २०१७ से अप्रैल २०१८ के दरम्यान फिलनस्टोन ग्रुप, १०६ पहली मंजिल, बिझनेस ओरीयन्ट पार्क, घोडबंदर रोड़, सिने वंडर मॉल के बाजू मेेंं इस जगह पर अमित मदनलाल लखनपाल और उसके साथी ने खुद के आर्थिक फायदे के लिए प्लानिंग बनाकर अग्रवाल को कहा कि मैं भारत सरकार के अर्थ मंत्रालय का प्रतिनिधी हूं और उसे बनावटी व्हिजिटींग कार्ड भी दिखाया| अमित ने अग्रवाल को कहा कि मैैं मनी ट्रेडिंग क्वाईंन कंपनी से हुं और यह कंपनी क्रिप्टो करन्सी बनाती है| अगर तुम इसमें इन्वेस्ट करोगे तो तुम्हे फायदा होगा, ऐसा बोलकर अग्रवाल का विश्‍वास जीता| 
                              अमित ने अपने साथी से मिलकर अग्रवाल से आजतक क्रिप्टो करन्सी में १,७६,२६००० की इन्वेस्टमेंट कराई और उसे अबतक कोई भी रक्कम वापस नही मिली| अग्रवाल को फसाने के आरोप में आरोपियों के विरुद्ध कलम ४१९,४२०,४०६,४६५,४६७,४६८,४७१,१२०(ब), १७१,३४,चिट फंड ऍक्ट १९८२ के कलम ४, सह.एम.पी.आय.डी. ऍक्ट के कलम ३,४, माहिती तंत्रज्ञान कायदा सुधारीत २००८ के कलम ६६(ड) के तहत गुन्हा दाखिल किया गया है| उसके बाद ठाणे क्राईम ब्रांच युनिट -१ आरोपी के फिलनस्टोन ग्रुप, १०६ पहली मंजिल, बिझनेस ओरीयन्ट पार्क, घोडबंदर रोड़, सिने वंडर मॉल के बाजू मेें उस जगह पर छापा मारकर आरोपी हाफीज काजी(२६,ठाणे) को गिरफ्तार किया है| वही इस मामले के मुख्य आरोपी अमित लखनपाल और उसके साथी की ठाणे क्राईम ब्रांच तलाश कर रही है| फ्लिनस्टोन ग्रुपइस कंपनी के घोडबंदर रोड़ और विक्रोली के कार्यालय पर ठाणे क्राईम ब्रांच ने छापा मारकर वहां से ५३ लैपटॉप, सिक्के, मोबाईल और बनावटी दस्तावेज वहां से बरामद किये है| आगे की जांच क्राईम ब्रांच युनिट -१ के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक नितीन ठाकरे कर रहे है|

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget