बेस्ट एलेक्ट्रोसिटी कर्मचारी के पास करोड़ों की बेनामी संपत्ति

मुंबई(सर्वजीत सोनी): बेस्ट इलेक्ट्रिसिटी का कर्मचारी, जो करोड़पति है,उसके ठाट से आपकी आंखे फटी की फटी रह जाएगी| डेढ़ दसक से ज्यादा समय से कार्यरत बेस्ट का यह कर्मचारी मुंबई में काम कर रहा है| बेस्ट में काम करते हुए उसने अपने बेटे को विदेश में शिक्षा के लिए भेजा और बेटी को डॉक्टरी पढ़ाया| नवी मुंबई तुर्भे के सेक्टर-२१ में सिडको के आधा दर्जन के करीब मकान और जनता मार्केट में २ दुकान बीवी-बेटे और उसके नाम पर है| साथ ही नवी मुंबई के खारघर में २ बीएचके के २ फ्लैट है| वहीं पनवेल में बंगले और नवी मुंबई के उल्वे में बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का काम जारी है| साथ ही उत्तर प्रदेश के गाजीपुर लंका में एक बंगला है| इसके साथ इस कर्मचारी के पास और भी कई बेनामी संपत्तियां है|
अब सवाल उठता है कि आखिर इतनी दौलत बेस्ट में काम करते हुए कैसे कमाई? इसका हिसाब नवी मुंबई की एक वकील ने मांगा है| उन्होंने एंटी करप्शन के डायरेक्टर जनरल को शिकायत कर जांच की मांग की है| आपको बता दें कि शिवकुमार वर्मा ने अपनी बेटी की शादी उत्तर प्रदेश के एक बंगले में धूमधाम से की थी | इस शादी में उसने पानी की तरह पैसा बहाया था | अपने दामाद को लाखों रुपयों की गाड़ी भेंट की थी| अपनी बेनामी संपत्ति के खुलासे की जानकारी शिवकुमार वर्मा को मिल गई, जिसकी वजह से बेस्ट से वी.आर.एस. लेने के लिए उसने प्रार्थना पत्र दिया| लेकिन वकील शारदा शाह की मांग है कि जबतक जांच पूरी नहीं होती उसे वी.आर.एस. नहीं दिया जाए| फिलहाल विजिलेंस के हाथ में यह मामला पहुंचा हुआ है| अब देखना होगा कि जांच में और कितनी बेनामी संपत्ति का खुलासा होगा?

एडवोकेट शारदा शाह का कहना है कि बेस्ट इलेक्ट्रिसिटी में कार्यरत शिवकुमार वर्मा के पास आय से अधिक संपत्ति की जांच के लिए मैंने एंटी करप्शन विभाग को पत्र देकर जांच करने की सिफारिश की है और इसकी जानकारी विजिलेंस विभाग को भी दी है और विजिलेंस विभाग से मांग की है कि जब इस मामले की जांच  पूरी नई होती तबतक शिवकुमार की vrs मंजूर नहीं की जाए। 

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget