Sunday, 5 November 2017

अय्याशी का अड्डा बना 'R-ADDA'


मुंबई - अपने नाम को यथार्थ साबित करते हुए जुहू स्थित रामी गेस्ट लाइन होटल का आर अड्डा इन दिनों वाकई में अड्डा बना हुआ है। जैसे-जैसे रात सर्द होती है वैसे- वैसे आर.अड्डा की गर्मी बढ़ती जाती है। प्रशासन से मिल रहे साथ और आपस के अंडर स्टैंडिंग की बात के चलते रात यहां हमेशा जवां रहती है। हाई- प्रोफाइल कस्टमर और बड़े बाप की बिगड़ैल औलाद अक्सर यहां की महफिलों को चार चाँद लगाते देखे जा सकते है। मदहोशी का आलम पूरी रात यहां रहता है। रात भर कानून की धज्जियां उड़ाई जाती है। रात रंगीन करने के नाम पर युवा – युवतियों को मुहँ काला करते देखा जा सकता है। आर अड्डा भविष्य के लिए एक बड़ा खड्डा तैयार कर रहा है।

उल्लेखनीय है कि आर अड्डा में युवाओं के लिए फुल ऑन व्यवस्था की गयी है। सूत्रों की माने तो आने वालों के लिए फुल बार सर्विस अवेलेबल है । कॉकटेल्स और मॉकटेल्स के साथ साथ लाइव म्यूजिक आपको मदहोश कर देगा। हर फ़िक्र को हवा में उड़ाने के लिए काश लेने का पूरा इंतज़ाम है, हुक्का के धुँए में युवा अपने भविष्य को हैवे में उड़ाते देखे जा सकते है। नाईट लाइफ के नाम पर खुले आम अय्याशी के अड्डे का नाम है आर. अड्डा।

सूत्र बताते है कि यहां पर संभ्रांत परिवार के युवाओं को नशे का आदि भी बनाया जा रहा है । ड्रग माफिया यहां पर खासे सक्रीय है। कुछ नया और एडवेंचर की चाह में आने वाले युवा – युवती आसानी से इनके झांसे में आजाते है। ड्रग माफिया इनको अपने चंगुल में फांस लेते है। देखते – देखते आर. अड्डा पिक आप पॉइंट भी बनता जा रहा है। मौज – मजे के चक्कर में आये युवाओं को यहां अय्याशी करने के पर्याप्त साधन मौजूद है।स्थानीय पुलिस के संरक्षण में फल फूल रहा यह अड्डा बहुत जल्द ही सुर्ख़ियों में आ सकता है. यहां चल रहे काले कारनामों से मुम्बई की क़ानून व्यवस्था पर भी सवालिया निशाँ लग सकता है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.