कांदिवली डाक विभाग के कर्मचारी मिलकर करते है रिश्वत का बटवारा, वीडियो हुआ वायरल


मुंबई (इस्माइल शेख) - कांदिवली के डाक विभाग में सभी कर्मचारी मिलकर रिश्वत लेने का मामला प्रकाश में आ रहा है| ड्राइविंग लाइसेंस पते पर पहुंचने के बदले, फोन पर बुलाकर रिश्वत मांगी जा रही है| यदी मनचाहा रिश्वत के पैसे नहींं मिले तो गलत एड्रेस का बहाना बना कर पोस्ट या पार्सल को रिटर्न कर दिया जाता है| इसका खुलासा एक एन.जी.ओ ने विडियो बना कर किया है|
मामला शुक्रवार ४:४० का है| कांदिवली, गणेश नगर रहमत मस्जिद के पास रहने वाले ४४ वर्षीय निसार मकबूल खान को कॉल आया मैं चारकोप पोस्ट ऑफिस से बोल रहा हूं, आप का ड्राइविंग लाइसेंस आया हुआ है| जल्दी आकर साईन करके अपना लाइसेंस ले जाओं| जब निसार पोस्ट ऑफिस पहुंचा तो उससे ’चायपानी’ यानी रिश्वत की मांग होने लगी| निसार ने कहा मैने सरकारी सभी नियमों का पालन किया है और वाजिब सभी पैसे मैंने जमा कर दिए है, जिसमें मेरे लाइसेंस को मेरे पते तक पहुंचाने का फीस भी शामिल है| तो अब आप कैसे पैसे मांग रहे हो? अगर पैसे चाहिए तो मुझे उसकी रसीद दो| इसपर पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी ने धमकी भरे लफ्जों में कहा अगर पैसे नहीं दिए तो तुम्हारा लाइसेंस वापस कर दूंगा| इन शिकायतों को लेकर निसार ने पोस्ट ऑफिस के और भी कर्मचारियों से बात की , सभी का यही कहना था| पैसे दे दो नहीं तो तुम धक्के खाते रह जाओगें| एड्रेस की गड़बड़ी बता कर तुम्हारा लाइसेंस कैंसिल भी हो सकता है| आखिर परेशान होकर निसार ने जयभारत एनजीओ के तालुका अध्यक्ष उमर मनिहार को सारी हकीकत बताई| उमर मनिहार ने पोस्ट ऑफिस पहुंच कर फरियाद के साथ पूरी हकीकत का अपने मोबाइल फोन के जरिए विडियो तैयार किया, जिसमें साफ हो गया कि कैसे यहां सभी सरकारी कर्मचारी एक होकर एक दूसरे के सहारे रिश्वत के पैसे ले रहे हैं| एनजीओ के माध्यम से जब इस मामले में चारकोप पुलिस में शिकायत के लिए पहुंचे तो पुलिस ने एन्टीकरप्शन का हवाला देकर संपर्क करने को कहा| शुक्रवार का अंत हो चुका था, शनिवार, रविवार छुट्टी के दिन, विडियो को वायरल कर दिया गया|

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget