८ वर्षों के बाद पकड़ा गया हत्यारोपी,क्राइम ब्रांच को मिली सफलता

उल्हासनगर: बिल्डर व्यवसायी बलराज मूलचंदानी की हत्या के प्रकरण में पिछले ८ वर्षों से फरार आरोपी को क्राइम ब्रांच उल्हासनगर ने अहमदनगर जिले से गिरफ्तार किया है|
उल्हासनगर में रहनेवाले बलराज टीकमचंद मूलचंदानी (५१) का बांधकाम का व्यवसाय था| २१ जनवरी २००९ को बलराज की हत्या कर दी गई थी| बदलापुर के बांधकाम व्यवसायी संभाजी पवार और मूलचंदानी का दुकान के दो गालों को लेकर विवाद था|इस विषय में चर्चा करने के लिए संभाजी पवार ने मूलचंदानी को बदलापुर स्थित फार्म हाउस पर बुलाया था| लेकिन चर्चा विफल होने के बाद संभाजी ने मूलचंदानी को रास्ते से हटाने के लिए खड़यंत्र रचा था| आरोपी संभाजी पवार, कपिलदेव मंडल, फुलराम चौधरी और अमजद शहा ने मूलचंदानी का अपहरण करके उनकी हत्या कर दी थी| बाद में सबूत मिटाने के लिए मूलचंदानी के शव को पनवेल तालुका के वाकोडी गांव के जंगल में फेंक दिया| इस अपराध के मुख्य आरोपी संभाजी पवार, कपिल मंडल, फुलराम चौधरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन चौथा आरोपी अमजद शहा ८ वर्षों से फरार था| अमजद अहमदनगर जिले के पाथर्डी तालुका के तीसगांव में नाम बदलकर साहिल खान के नाम से रहता था, उसने अपने आधार कार्ड व पैन कार्ड पर भी नाम बदल लिया था|वहां उसने स्थानीय महिला से निकाह भी कर लिया था| इस संदर्भ में जानकारी मिलने के बाद क्राइम ब्रांच विभाग के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राजेश बागलकोट, पुलिस निरीक्षक मनोहर पाटिल, सहायक पुलिस निरीक्षक युवराज सालगुडे, गणेश तोरमल, रामसिंग चव्हाण, पुलिस हवलदार भरत नवले, मोरेश्वर बाबरे, जावेद मुलानी, गणेश गुरमाली की टीम ने कल रात अमजद शहा उर्फ साहिल खान को गिरफ्तार कर लिया है|

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget