सुपर कलर लैब को छूट ! मोबाईल टावरों से लूट


उल्हासनगर (एचएमएम ब्यूरो)-उल्हासनगर मनपा आयुक्त ने मोबाईल टॉवर का टैक्स न भरने वाली विविध निजी कंपनी वालों को तत्काल बकाया रकम भरने को लेकर नोटिस जारी की है, इस प्रकरण को सुपर कलर लैब के २८ लाख बकाया रकम की वसूली से जोड़ा जा रहा है | शहर में चर्चा का विषय है की राजनीति पार्टियों के दबाव के चलते अभी भी सुपर कलर लैब से २८ लाख बकया टैक्स नहीं वसूला गया है जबकि ५ जून को ही वारंट की मोहलत ख़त्म हो चुकी है | उल्हासनगर में लगे १०२ मोबाईल टॉवर कंपनी वालों से मनपा को टैक्स के रूप में १ करोड़ १७ लाख रुपए आना बाकी है|  मनपा के आयुक्त राजेंद्र निंबालकर की अनुमति लेकर मनपा अधिकारीयों ने नोटिस भेजने का सिलसिला शुरू किया है, बकाया दारों से ब्याज सहित वसूली की जाएगी|     उल्हासनगर मनपा क्षेत्र में प्रोपर्टी  बिल वसूली के लिए ८ यूनिट स्थापित किए है, उक्त सभी यूनिट के कार्यक्षेत्र में आयडिया, रिलायंस, एअरटेल, जीओ आदि  मोबाईल कंपनियों के लगभग १०२ मोबाईल टॉवर निजी बिल्डिंगों पर लगें है, नियमानुसार मनपा को टैक्स भरना अनिवार्य है|
उल्हासनगर मनपा की फिर से कमान संभालते ही लोगों की नजरें राजेंद्र निम्बालकर के ऊपर टिकी है| लोगों का मानना है कि  सुपर कलर लैब के २८ लाख की टैक्स वसूली मनपा आयुक्त के लिए पेचीदा मामला है और यह  प्रकरण राजेंद्र निम्बालकर के कार्यकाल का है और अभी भी सुपर कलर लैब से बकाया टैक्स की वसूली नहीं हो पाई है जबकि १९ मई २०१७ को ही पैसे वसूली के लिए सुपर कलर लैब को वारंट दिया जा चुका है और १५ दिन के मोहलत के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई है और न ही बकाया टैक्स की वसूली हो पाई है |  
अब देखना है कि उल्हासनगर के मनपा आयुक्त राजेंद्र निम्बालकर मोबाइल टावर के साथ साथ सुपर कलर लैब की वसूली में कितनी जल्दी कोई निर्णय लेते हैं, क्योंकि वारंट की तिथि के अनुसार अभी तक कोई भी वसूली नहीं हुई है और न ही जप्ती| परंतु सूत्रों की माने तो राजेन्द्र निम्बालकर ने सुपर कलर लैब के दस्तावेजों को खंगालना शुरू कर दिया है और राजनीति पार्टियॉं अपने दावपेच में लगी हैं कि किस तरह सुपर कलर लैब की कार्यवाही को टाला जा सके|

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget