Thursday, 4 May 2017

हसीना के जाल में फंस चुके हैं 20 से अधिक नेता व बिजनेसमैन


नई दिल्ली- गुजरात के वलसाड से भाजपा सांसद डॉ. केसी पटेल को हनी ट्रैप में फांस 5 करो़ड़ रुपए मांगने वाली महिला से पूछताछ में चौंकाने वाली जानकारी मिल रही है। कुछ वर्षो में वह 20 से अधिक नेताओं व बिजनेसमैन को हनी ट्रैप के जरिए फांस 20-25 करो़ड़ रुपए उगाही कर चुकी है। उसकी गिरफ्तारी की जानकारी शिकार बने नेताओं व बिजनेसमैन को मिल गई है, लेकिन बदनामी के कारण वे पुलिस के सामने नहीं आना चाह रहे हैं।
हालांकि दिल्ली पुलिस ऐसे लोगों की सूची तैयार कर रही है, जो इस हसीना के जाल में फंस चुके हैं। उनसे संपर्क भी किया जाएगा। अगर वे पुलिस को सहयोग करने के लिए सबूत देना चाहेंगे तो महिला के खिलाफ दर्ज केस को मजबूती मिल सकेगी। शुक्रवार को सांसद की शिकायत पर नॉर्थ एवेन्यू थाने में महिला के खिलाफ उगाही के मकसद से किसी को फंसाने, ब्लैकमेलिंग, आपराधिक साजिश रचने व आठ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया था। मंगलवार सुबह पुलिस ने उसके इंदिरापुरम स्थित घर जाकर गिरफ्तार भी कर लिया। उससे पूछताछ कर सबूत जुटाने की कोशिश की जा रही है।
लोकसभा की वेबसाइट से हासिल करते थे उम्रदराज नेताओं के नंबर 
जांच से पता चला है कि महिला लोकसभा की वेबसाइट देख उम्रदराज सांसदों व पूर्व सांसदों के नंबर हासिल करती थी। उसके बाद उन नंबरों पर संपर्क कर किसी काम के सिलसिले में बात कर उनसे आवास पर जाकर मिलती थी। जल्द मेलजोल बढ़ाने के बाद वह किसी बहाने सांसदों को इंदिरापुरम वाले फ्लैट में ले आती थी। यहां उसके कमरे में कैमरा लगा होता था जिसका फोकस बेड की तरफ रहता था। सांसदों को नशीला पदार्थ मिला शीतलपेय या चाय पिलाने के बाद वह उनके साथ अश्लील वीडियो बना लेते थे और फिर खुद सांसदों को घर तक छो़ड़ आती थी। यही तरीका वह बिजनेसमैन के साथ भी अपनाती थी।
महिला चलाती है गिरोह, 6 सदस्य की संभावना 
महिला इस धंधे को अकेले नहीं करती है, बल्कि उसके साथ एक युवती समेत 6 सदस्य होने की जानकारी मिली है। उगाही के लिए महिला ने गिरोह बना रखा है, जिसमें उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के बदमाश शामिल हैं।
डिग्रियों की भी जांच करेगी पुलिस 
मूल रूप से मुजफ्फरनगर की रहने वाली 30 वर्षीय आरोपी महिला 5 साल पहले राजस्थान पब्लिक सर्विस कमीशन की तैयारी करने दिल्ली आई थी। महिला का दावा है कि उसने संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा भी दी है। इसके अलावा उसने बीए, एमए अंग्रेजी, एमए राजनीतिक विज्ञान, एलएलबी व एलएलएम किया है। पुलिस ने जब उसे अंग्रेजी में कुछ लिखने के लिए बताया तब वह नहीं लिख पाई। ऐसे में पुलिस को शक है कि महिला अधिक पढ़ी-लिखी नहीं है। हो सकता है वह झूठी बोल रही हो। उसने फर्जी तरीके से डिग्री हासिल की हो। पुलिस उसकी सभी डिग्रियों की भी जांच करेगी। सभी डिग्री उसने मुजफ्फरनगर से हासिल की है।
साथ लेकर चलती थी खुफिया कैमरे 
महिला ने अपने घर पर कैमरा लगा रखा है। वह जहां भी जाती थी अपने साथ 3-4 खुफिया कैमरे लेकर चलती थी। उसके चश्मे व पेन में कैमरे होते थे। उसकी निशानदेही पर इंदिरापुरम से कुछ सीडी व ऑडियो क्लिप बरामद की गई है। पुलिस जांच के लिए महिला को मुजफ्फरनगर ले जाएगी।
भाजपाई विचारधारा की है महिला 
हनी ट्रैप में फंसाने वाली महिला भाजपाई विचार धारा की है। फेसबुक पर उसने उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ भाजपा नेता कल्याण सिंह के साथ वाली अपनी कई तस्वीरें लगा रखी हैं। पुलिस यह भी पता लगाएगी कि यह उन्हें कैसे जानती है।


SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 coment rios: