टोरेंट पॉवर के मनमानी के खिलाफ ग्रामविकास समिति का मूक मोर्चा

भिवंडी(अरविंद जैसवार)- भिवंडी शहरी व ग्रामीण भागों में बिजली सप्लाई करने वाली टोरेंट कंपनी के खिलाफ ग्रामविकास समिति ने आंनद दिघे चौक से प्रांत कार्यालय पर हजारो की संख्या में रास्ते पर उतरकर मूक मोर्चा किया|
बता दें कि भिवंडी शहरी व ग्रामीण भागो में पिछले कई वर्षों से बिजली सप्लाई करने वाली टोरेंट पावर चर्चा का विषय बनी हुई है, जिसके कार्यों के विरोध में ग्रामविकास समिती ने १८ गावों के साथ मिलकर हजारों की तादाद में आज आनंद दिघे चौक से प्रांत कार्यालय तक रास्ते पर उतरकर मुँह पर काली पट्टी बांधकर मूक मोर्चा कर विरोध जताया| जिसमें पुरुषों के साथ महिलाओं ने भी साथ दिया और प्रांत संतोष थिटे को टोरेंट पॉवर के कालेचिट्ठे कारनामों का लेखा जोखा ज्ञापन के तौर पर सौंपा जिसमे उनकी कई मांगे भी थी| जैसे, ग्रामीण भागों में ग्राहकों पर दर्ज किये गए चोरी के झूठे मामलों को वापस लिया जाए, गॉंव में आकर अवैध तरीके से फोटो खींचकर गलत मामला दर्ज करवाना बंद करे, गॉंव के परिसर में किसी भी प्रकार के कार्य करने से पहले ग्रामपंचायत की लिखित परमिशन ली जाए, गांवों में बिजली की पूर्तता सही दे, शहर की अपेक्षा ग्रामीण भागों में बिजली बिल की दर कम हो, रात के समय होनेवाली कटौती बंद की जाए, नए मीटर कनेक्शन को प्राधान्यता दी जाए, गांव के प्राइवेट जगह पर किसी भी प्रकार का सामान बिना परमिशन ना लाये, ग्राहक के विरोध में कोई शिकायत हो तो पहले ग्रामपंचायत को बताई जाए, टोरेंट के अलावा दूसरी कंपनियों के भी बिजली ग्राहकों को दी जाए, स्कूल, मंदिर व श्मशानभूमि पर बिजली दर में छूट दी जाए जैसी कई मांगें इस ज्ञापन में था| ज्ञापन सौपते समय ग्रामविकास समिति के अध्यक्ष मनेष म्हात्रे, दुर्जन भोईर, नंदिनी भोईर, नंदन पाटिल, केशव म्हात्रे, कालीराम पाटिल, श्रीराम माली, रुपेश पाटिल, अविनाश पाटिल,अशोक पाटिल व केतन तरे सहित हजारो समर्थक उपस्थित थे|

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget