देह व्यापार से बचानेवाले पुलिसकर्मी ने लालच में आकर युवती को बेचा


पुणे. शहर के एक लॉज में चल रहे सेक्स रैकेट से मुक्त करवाई गई नाबालिग ने चौकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस को दिए अपने बयान में लड़की ने कहा है कि, एक पुलिसवाले ने उसे इस गिरोह में
शामिल दलालों को बेचा था। 
 बंगलादेश की रहने वाले नाबालिग ने पुलिस को बताया कि, "छोटी उम्र में ही मेरे पिता की मौत हो गई थी। इस सदमे में मां भी मानसिक रूप से बीमार हो गई। इस कारण मुझे कम उम्र में ही फैमिली का बोझ संभालना पड़ा।
- परिवार का पेट पालने के लिए वह लोगों के घरों में काम करने लगी। इसी दौरान उसके पड़ोसी ने उसकी मदद करने के बहाने उसकी मजबूरी का फायदा उठाया और अच्छी नौकरी दिलवाने का वादा कर उसे मुंबई ले आया और उसे बेच दिया।
पुलिसवाले ने ही उसे बेच दिया
 पीड़िता के मुताबिक, दो बार पुलिस ने उसको सेक्स रैकेट के दलदल से बाहर तो निकाला। लेकिन एक पुलिसवाले ने ही पैसे के लालच में उसे फिर से देह व्यापार के दलदल में धकेल दिया।
 पीड़िता ने इस बार इस दलदल से निकलने के लिए एक एनजीओ से गुहार लगाई थी। एनजीओ की मदद से पुलिस ने पुणे-सातारा राजमार्ग स्थित एन.एम. नामक लॉज पर छापा मारकर सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया।
आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस
 पुलिस ने लॉज मालिक सहित 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। लॉज का मालिक ही सेक्स रैकेट चला रहा था।
इस रैकेट में फंसी एक नाबालिग लड़की सहित चार लड़कियों को गिरोह के चंगुल से बाहर निकाला है।
 आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है।
 पुलिस ने नाबालिग पीड़िता की तहरीर पर अज्ञात पुलिसकर्मी के खिलाफ भी केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget