पैसे बचाइए सरकारी योजनाओ का फायदा जरूर उठाइये

भारत सरकार शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए कई योजनाएं चला रही हैं। बहुत-सी ऐसी योजनाएं हैं जिनका फायदा आम लोगों को उठाना चाहिए, लेकिन जानकारी के अभाव में वे फायदा उठा नहीं पाते। करीब 35 विभागों/मंत्रालयों में 100 से ज्यादा योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिनका फायदा आप उठा सकते हैं। कुछ खास योजनाओं की जानकारी दे रहे हैं चंद्र भूषण:


सामाजिक सुरक्षा के लिए
प्रधानमंत्री जन-धन योजना (PMJDY)
कब लॉन्च: 28 अगस्त 2014
मकसद: हर नागरिक का बैंक में खाता खुलवाकर उसे आर्थिक रूप से सशक्त बनाना। अगर आपका किसी बैंक में अकाउंट नहीं है तो आप जन धन योजना के तहत आसानी से अपना अकाउंट खुलवा सकते हैं।

कहां और कैसे खोलें खाता
- खाता किसी भी बैंक की शाखा या बैंक मित्र आउटलेट में खोला जा सकता है।
·- खाता खोलने के लिए बैंक काउंटर से या नजदीकी बैंक की वेबसाइट से फॉर्म डाउनलोड करें और भरकर नजदीकी बैंक में जमा करें।
- अगर आधार कार्ड है तो किसी दूसरे डॉक्युमेंट की जरूरत नहीं है। अगर आपका पता बदल गया है तो मौजूदा अड्रेस की सेल्फ अटेस्टेड कॉपी जरूरी है।
- अगर आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है तो वोटर आई-कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन, पासपोर्ट या मनरेगा कार्ड से भी खाता खोल सकते हैं।
- खाते जीरो बैलेंस के साथ खोले जाते हैं। अगर चेक बुक चाहिए तो संबंधित बैंक के मिनिमम बैलेंस से जुड़ीं शर्तें पूरी करनी होंगी।

योजना के फायदे
- जमा राशि पर ब्याज मिलेगा।
- अकाउंट होल्डर का एक लाख रुपये का दुर्घटना बीमा
  • -30,000 रुपये का जीवन बीमा। मिनिमम बैलेंस बनाए रखने की जरूरत नहीं। हालांकि बेहतर है कि आप रूपे कार्ड से किसी एटीएम से पैसे निकालने के लिए कुछ रकम खाते में रखें।
- देश में कहीं भी पैसे आसानी से भेजने की सुविधा मिलेगी।
- 6 महीने तक इन खातों के संतोषजनक चलने के बाद ओवरड्राफ्ट (आपकी जमा राशि से ज्यादा पैसा लेने) की सुविधा दी जाएगी।
- हर परिवार के एक खाते, खासकर महिला के खाते में 5000 रुपये की ओवरड्राफ्ट सुविधा दी जाएगी।

वेबसाइट: jansuraksha.gov.in
ऐप: PMJDY नाम से एंड्रॉयड ऐप भी है।

जन सुरक्षा योजनाएं

मकसद: गरीबों के लिए पेंशन और बीमा कवर उपलब्ध कराना। 3 सामाजिक सुरक्षा योजनाएं शुरू की गई हैं, जिनका फायदा आप उठा सकते हैं:
1. प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY)
2. प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY)
3. अटल पेंशन योजना (APY)
इन तीनों जन सुरक्षा योजनाओं का लाभ किसी भी आय वर्ग के लोग ले सकते हैं। हालांकि इनका मुख्य टारगेट वे लोग हैं, जिनका किसी बैंक में खाता नहीं है। इन्हें किसी भी बैंक में खोल सकते हैं।


प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY)

कब लॉन्च: 
9 मई 2015
मकसद 
किसी हादसे में मृत्यु होने या शरीर के किसी अंग के बेकार हो जाने पर आर्थिक सुरक्षा देना। सिर्फ 12 रुपये सालाना प्रीमियम देकर दो लाख रुपये का इंश्योरेंस आप ले सकते हैं।

योजना के फायदे
- हादसे में मृत्यु या पूर्ण विकलांगता के लिए बीमा राशि 2 लाख रुपये और आंशिक विकलांगता के लिए 1 लाख रुपये है।
- 18 से 70 साल की उम्र के वे लोग, जिनके पास आधार से जुड़ा बैंक अकाउंट हो, इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
- योजना का सालाना प्रीमियम सिर्फ 12 रुपये है जो कस्टमर के खाते से बैंक ऑटो डेबिट हो जाएगा। यह प्रीमियम के भुगतान का इकलौता जरिया है।
- कस्टमर को इस योजना को चुनने के लिए 1 जून तक बैंक में सरल फॉर्म जमा करना होता है। यह फॉर्म बैंक से मिलता है।
- लॉन्ग टर्म के आधार पर भी इस योजना में विकल्प चुन सकते हैं। ऐसा होने पर खाते से बैंक हर साल प्रीमियम ऑटो डेबिट कर लेगा।

वेबसाइट: pradhanmantriyojana.in
ऐप: PMSBY नाम से एंड्रॉयड ऐप भी है।


प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY)
यह बीमा मृत्यु के मामले में आश्रितों को लाभ देने के लिए है। कम प्रीमियम में ज्यादा आर्थिक सुरक्षा पाने के लिए इसे चुन सकते हैं।

योजना के फायदे
- अकाउंट होल्डर की किसी वजह से मृत्यु होती है तो उसके आश्रितों को 2 लाख रुपये की बीमा राशि मिलती है।
- यह योजना बैंक खाता रखने वाले 18 से 50 साल के लोगों के लिए है।
·- 50 साल की उम्र पूरी करने से पहले इस योजना में शामिल लोगों को 330 रुपये का सालाना प्रीमियम देना पड़ता है।
- कोई भी इस योजना को एक साल या इससे ज्यादा वक्त के लिए चुन सकता है।
- लंबी अवधि के विकल्प के मामले में बैंक हर साल प्रीमियम की रकम ऑटो डेबिट कर देगा।

वेबसाइट: pradhanmantriyojana.in


अटल पेंशन योजना (APY)

मकसद
यह योजना बुढ़ापे में किसी शख्स को सहारा देने के लिए है। इस पेंशन फंड को इंश्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी चलाती है। ओल्ड ऐज में सहारे के लिए इस पेंशन स्कीम को चुन सकते हैं।

कब लॉन्च: 9 मई 2015

योजना के फायदे
- यह योजना असंगठित क्षेत्र में काम करनेवाले 18 से 40 साल के लोगों के लिए है। यह सुविधा उन्हीं के लिए है जो इनकम टैक्स नहीं देते और जिनका ईपीएफ या ईपीएस अकाउंट नहीं है।
- इसके तहत 60 साल का होने के बाद व्यक्ति पेंशन का हकदार होगा। इस योजना में 1000 से 5000 रुपये तक की पेंशन राशि मिलेगी।
- अगर कोई शख्स 42 रुपये हर महीने अटल पेंशन योजना के तहत जमा करता है तो उसे 60 साल की उम्र के बाद 1000 रुपये हर महीना पेंशन मिलेगी। 210 रुपये हर महीने जमा करने वाले शख्स को 60 साल की उम्र के बाद 5000 रुपये हर महीने पेंशन मिलेगी।
- योगदान राशि बैंक अकाउंट से ऑटो डेबिट हो जाएगी।
- 31 मार्च 2016 तक जो लोग इसका हिस्सा बन चुके हैं, उनके पहले 5 बरसों में जमा होने वाली रकम का 50% का योगदान सरकार देगी।
·- 60 साल की उम्र के बाद अगर अकाउंट होल्डर की मौत हो जाती है तो पेंशन उसके जीवनसाथी को मिलेगी। अगर दोनों की मृत्यु हो जाती है तो नॉमिनी को एकमुश्त रकम मिलेगी जो 1000 रुपये पेंशन के लिए 1–7 लाख और 5000 रुपये पेंशन के लिए 5-8 लाख रुपये होगी। अगर अकाउंट धारक की मृत्यु 60 साल से पहले ही हो जाती है तो जमा राशि ब्याज समेत नॉमिनी को दे दी जाएगी और खाता बंद कर दिया जाएगा।
- बैंक से फॉर्म लेकर या वेबसाइट से फॉर्म डाउनलोड कर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

वेबसाइट: atalpensionyojana.in


सुकन्या समृद्धि योजना

मकसद
बेटियों को आर्थिक रूप से सक्षम बनाना ताकि माता-पिता बेटियों को बोझ न समझे।
कब लॉन्च: 22 जनवरी 2015

योजना के फायदे
- कोई भी शख्स अपनी बेटी के नाम यह खाता खोल सकता है। बेटी के पैदा होने से 10 साल के होने तक कभी भी खाता खोला जा सकता है।
- बेटी के 21 साल का हो जाने पर पूरा जमा पैसा निकाला जा सकता है, जबकि बेटी के 18 साल का होने पर 50 फीसदी रकम निकाली जा सकती है।
- जमा रकम पर 8.6 फीसदी सालाना ब्याज मिलता है।
- फाइनैंशल ईयर में एक हजार रुपये कम-से-कम जमा करना होता है। अधिकतम डेढ़ लाख रुपये जमा कर सकते हैं।
- जमा की गई रकम पर धारा 80-सी के तहत टैक्स में छूट मिलती है।
- मैच्योरिटी पर मिलने वाली रकम पर टैक्स नहीं देना होता है।

वेबसाइट:sukanyasamriddhiaccount.net
ऐप: Sukanya Samridhi Yojana नाम से एंड्रॉयड ऐप है।


राष्ट्रीय पेंशन स्कीम (NPS)

मकसद
समाज के हर तबके के लोगों को बुढ़ापे में आर्थिक सुरक्षा मुहैया कराना। इससे आप आज छोटी–छोटी बचत कर जीवन की दूसरी पारी (रिटायरमेंट) के लिए पैसा जमा कर सकते हैं। µ

योजना के फायदे
- कोई भी भारतीय नागरिक जिसकी उम्र 18 से 60 साल है, वह इसका लाभ ले सकता है फिर चाहे वह सैलरीड हो या कारोबारी।
- इनकम टैक्स के तहत 1.50 लाख रुपये की सीमा के अतिरिक्त एनपीएस के जरिए 50,000 रुपये के निवेश पर टैक्स में अतिरिक्त छूट पा सकते हैं।
- दो तरह के अकाउंट होते हैं: टियर-1 और टियर-2। टियर 1 अकाउंट में साल में कम-से-कम 6000 रुपये जमा करने होते हैं। टियर-2 अकाउंट 1000 रुपये से खुलवाया जाता है। इसमें कभी भी कितना भी पैसा जमा करा सकते हैं।
- जो रकम आप जमा करा रहे हैं उस पर कुल मिलाकर दो लाख रुपये के निवेश पर टैक्स की छूट मिलती है। डेढ़ लाख रुपये तक की रकम 80-सी में कवर हो जाती है और बाकी 50 हजार रुपये का एक्स्ट्रा डिडक्शन मिलता है।
- रिटायरमेंट के वक्त जो 60 फीसदी रकम आप निकालेंगे, उसमें से 40 फीसदी रकम ही टैक्स फ्री होगी। 20 फीसदी रकम पर टैक्स देना होगा।
- रिटायरमेंट की प्लानिंग के लिए है यह स्कीम। एनपीएस में आप जो पैसा इन्वेस्ट करते हैं, उसका कुछ हिस्सा इक्विटी में और कुछ डेट में लगाया जाता है। अगर आपको बाजार की अच्छी समझ नहीं है तो आप ऑटो मोड चुन सकते हैं, जिसमें उम्र बढ़ने के साथ-साथ आपका इक्विटी में योगदान कम होता जाता है और सेफ इंस्ट्रूमेंट्स में बढ़ता जाता है।

वेबसाइट: enps.nsdl.com
ऐप: NPS National Pension Schemeनाम से एंड्रॉयड और ios, दोनों के लिए ऐप हैं।


प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (PMUY)

कब लॉन्च: 1 मई 2016

मकसद
गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले महिलाओं को मुफ्त में एलपीजी कनेक्शन देना। बीपीएल कार्ड धारक इसका फायदा उठा सकते हैं।

योजना के फायदे
- एयर पलूशन को कम करने में मदद मिलेगी। सेहत से जुड़े खतरे कम होंगे।
- जिन बीपीएल परिवारों के पास कोई एलपीजी कनेक्शन नहीं है, वे आवेदन कर सकते हैं।
- एससी/एसटी और पिछड़े वर्ग के लोगों को प्राथमिकता दी जाती है।
- ऐप्लिकेशन डाउनलोड करने और भरने के बाद नजदीकी एलपीजी डिस्ट्रिब्यूशन सेंटर पर जमा कर सकते हैं।

वेबसाइट: pmujjwalayojana.in


राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना (RSBY)

कब लॉन्च: 1 अप्रैल 2008

मकसद
देश में असंगठित क्षेत्र के कामगारों के लिए बीमा कवरेज देना।

योजना के फायदे
- बीपीएल कार्डधारी यानी गरीबी रेखा से नीचे रहनेवाले और असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों के लिए है यह योजना।
- हर परिवार को सालाना फ्लोटर आधार पर 30 हजार रुपये की बीमा राशि मिलेगी, यानी किसी भी सूचीबद्ध हॉस्पिटल में 30 हजार रुपये तक का इलाज करा सकते हैं।
- इलाज के लिए मरीज को नकद रुपये नहीं देने होते।
- स्मार्ट कार्ड के लिए पंचायत या ब्लॉक या वार्ड लेवल पर समय-समय पर कैंप लगाए जाते हैं। आधार कार्ड के जरिए इसे बनवा सकते हैं।

वेबसाइट: rsby.gov.in


रोजगार के लिए

स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया

कब लॉन्च: 5 अप्रैल 2016

मकसद
यह योजना छोटे–बड़े कारोबार को शुरू करने में मदद के लिए है। इसमें लोन सुविधा, उचित मार्गदर्शन और बिजनेस के लिए आसान पॉलिसी शामिल है। इसके तहत जरूरी स्किल डिवेलमेंट ट्रेनिंग भी दी जाएगी।

योजना के फायदे
खासतौर पर उन लोगों को फायदा जो अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं। ·इच्छुक लोगों की आर्थिक मदद की जाती है और टैक्स में छूट भी मिलती है। स्टार्ट-अप शुरू करने से पहले इन बातों का ध्यान रखें:
प्रॉडक्ट: आप जो चीज बना रहे हैं या बनाने जा रहे हैं, क्या उसकी बाजार में जरूरत है? अगर बाजार में वह प्रॉडक्ट पहले से मौजूद है तो आपका प्रॉडक्ट उससे काफी बेहतर हो।
टीम: आपकी टीम आपके जितनी ही समझदार और मेहनती होनी चाहिए।
पैसा: आपके पास कम-से-कम इतना पैसा हो कि आप पांच से छह महीने तक बिना किसी चिंता के अपना काम चला सके। सबसे पहले इस पैसे का इंतजाम करें। हालांकि सरकार भी कारोबार को बढ़ावा देने के लिए आर्थिक मदद दे रही है। स्टैंडअप योजना के तहत बैंकों के द्वारा एससी/एसटी और महिला उद्यमियों को 10 लाख से एक करोड़ तक के लोन दिए जाते हैं।
ऐक्शन प्लान: शुरू के तीन साल कोई अधिकारी निरीक्षण नहीं करेगा। इसके अलावा पेटेंट फीस में 80 फीसदी कटौती, तीन साल तक कैपिटल गेन टैक्स से छूट, मुनाफे में छूट खासतौर पर महिलाओं को। पांच लाख स्कूलों में बच्चों में इनोवेशन प्रोग्राम शुरू करने की योजना भी इसका हिस्सा है।

वेबसाइट: startup-india.org
ऐप: Startup India Standup India नाम से एंड्रॉयड ऐप भी है।

मेक इन इंडिया (Make in India)

मकसद
देश में प्रॉडक्शन और कारोबार को बढ़ावा देना, इनवेस्टमेंट के लिए अनुकूल माहौल बनाना, आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करना और सरकार व उद्योगों के बीच एक साझेदारी बनाना।

कब लॉन्च: 25 सितंबर 2014

योजना के फायदे
- देश में कारोबार करना आसान बनाने की कोशिश, जिससे लाखों नए रोजगार पैदा होंगे।
- सरकार ने देश में कारोबार करने के प्रोसेस और नियमों को सरल बनाया है।
- पेटेंट और ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को आसान बनाया गया है।

वेबसाइट: makeinindia.com
ऐप: Make In India नाम से एंड्रॉयड ऐप भी है।

अन्य

डिजिलॉकर (Digilocker)
कब लॉन्च: फरवरी 2015
मकसद
अहम डॉक्युमेंट्स को ऑनलाइन मुहैया कराना। इसे आधार कार्ड नंबर से जोड़ा गया है। इसका इस्तेमाल कभी भी, कहीं भी कर सकते हैं।
योजना के फायदे
इस पोर्टल की मदद से आवेदक अपने जरूरी डॉक्युमेंट्स को ऑनलाइन अपलोड कर सकता है और फिर जरूरत पड़ने पर यूज कर सकता है। डॉक्यूमेंट्स की हार्ड कॉपी रखने की जरूरत नहीं। इन दस्तावेजों को सरकारी संगठनों या दूसरी संस्थाओं के साथ शेयर किया जा सकता है।
वेबसाइट: digitallocker.gov.in
ऐप: DigiLocker नाम से एंड्रॉयड ऐप भी है।

नैशनल स्कॉलरशिप पोर्टल
कब लॉन्च: 15 जुलाई 2015
मकसद
स्टूडेंट्स को हायर एजुकेशन के लिए प्रोत्साहित करना और उसमें पैसे की कमी को रुकावट न बनने देना। यह हायर एजुकेशन के लिए लोन लेने से संबद्ध योजना है। इस पोर्टल के तहत आवेदक स्कॉलरशिप के लिए न सिर्फ अप्लाई कर सकता है बल्कि पैसा भी सीधे लाभार्थियों के खाते में जाता है।
योजना के फायदे
- सभी सरकारी स्कॉलरशिप्स की जानकारी एक जगह उपलब्ध। सभी के लिए एक ही साथ आवेदन भी किया जा सकता है।
- छात्र किस योजना में फिट बैठता है, यह बात आसानी से पता लग सकती है।
·- यह योजना राष्ट्रीय स्तर पर संस्थानों और पाठ्यक्रमों के लिए मास्टर डेटा तैयार करता है।
वेबसाइट: scholarships.gov.in

प्रधानमंत्री विद्या लक्ष्मी पोर्टल
कब लॉन्च: 15 अगस्त 2015
मकसद
एजुकेशन के लिए कर्ज लेने के इच्छुक स्टूडेंट्स के लिए यह पोर्टल शुरू किया गया। इसके तहत यह सुनिश्चित किया जाता है कि पैसे की कमी के कारण कोाई हायर एजुकेशन से वंचित न रहे। कुल मिलाकर यह पोर्टल बैंकों के एजुकेशन लोन की जानकारी स्टूडेंट्स को मुहैया कराता है।
वेबसाइट: scholarships.gov.in

केंद्र सरकार की कुछ और अहम योजनाएं
डिजिटल इंडिया प्रोजेक्ट (DIP)
स्वच्छ भारत मिशन (SBM)
स्मार्ट सिटी योजना (SCP)
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY)
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (PMJSY)
महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना यड (MANREGA)
प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना (सुकन्या समृद्धि योजना)
प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना
सूचना का अधिकार योजना
राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (NFSM)
सांसद आदर्श ग्राम योजना
इंदिरा आवास योजना (IAY)
सर्वशिक्षा अभियान (SAS)
साक्षर भारत मिशन
राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना (NRDWP)
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY)
काम की कुछ और वेबसाइट्स
india.gov.in
pmindia.gov.in
mygov.in
sarkariyojna.co.in

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget