लड़कों को घर बुला बातों-बातों में बंद करती थी रूम, फिर शुरू होता था ये खेल





जयपुर।राजस्थान के चिड़ावा मेंपुलिस ने लड़कियों की एक ऐसी गैंग का पर्दाफाश किया है जो युवकों को फंसाकर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराने की धमकी देती थीं। इसके बाद वो ब्लैकमेल कर मोटी रकम वसूल करती थीं। पुलिस ने पीड़ित की मदद से पैसे की वसूली करते इस गैंग की मुख्य सरगना एक 32 वर्षीय महिला और 22 वर्षीय युवती को हिरासत में ले लिया है। जानिए पूरा मामला...

-पिलानी थाना इलाके के खेड़ला का बास का रहने वाले मनोज ने 10 नवंबर को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।
-रिपोर्ट के मुताबिक मनोज एक ऐसी गैंग का शिकार हो गया जो युवकों को फंसाकर पैसे ऐंठती थी।
-इस गैंग की एक लड़की ने मनोज को अपने घर बुलाया। घर पहुंचने पर कुछ मिनट तो बातचीत की और फिर एक कमरे में बैठने को कहा।
-इसके बाद इस कमरे को बंद कर दिया। फिर इन युवतियों ने कई तरह के आरोप लगाना शुरू कर दिए। मनोज के साथ जमकर मारपीट कर डाली।
-मनोज ने छोड़ देने की दुहाई दी तो गैंग की लड़कियों ने बोला-पहले एक सादे कागज पर साइन करके दे दो,हम छोड़ देंगे।
-अपनी जान और इज्जत बचाने के लिए उसने सादे कागज पर साइन कर दिए।
-दस्तखत करने के बाद गैंग की महिला ने दो लाख रुपए की मांग की।
-मनोज क्या करता,उसने इन लड़कियाें को 50 हजार रुपए दिए और अपनी जान बचाई।
फिर यूं करने लगी फोन पर ब्लैकमेल
-मनोज के लौटने के बाद गैंग की सरगना उसे फोन पर ब्लैकमेल करने लगी।
- बोली यदि दो लाख रुपए और नहीं दोगे तो थाने में जाकर तुम्हारे खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराएंगे।
-इस पर मनोज ने 10 नवंबर को थाने में इस गैंग के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया।
फिर यूं शुरू पीछा करना शुरू किया पुलिस ने लड़कियों की इस गैंग का

-पुलिस आरोपियों के कॉल रिकॉर्ड करने लगी।
-पुलिस के इशारे पर मनोज आरोपियों के बताए स्थान पर 50 हजार कैश और डेढ़ लाख रुपए का चैक लेकर पहुंच गया। वहां सादा वर्दी में मौजूद पुलिस ने उन्हें धर दबोचा।
-पुलिस युवती और महिला से पूछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक युवती चिड़ावा के वार्ड नंबर 18 की रहने वाली है। ये शादीशुदा है और पति से अनबन के चलते अलग रहती है।
-महिला झुंझुनूं के आदर्श कॉलोनी की रहने वाली है। पुलिस गिरोह के दूसरे सदस्यों की तलाश में है।

और पढिये

लड़कियों को सेक्स के वक्त इसमें आता है ज्यादा मजा



Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget