संसद में बोले पीएम मोदी, अब संविधान में कोई बदलाव नहीं होगा, ये आत्महत्या करने जैसा होगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि अब संविधान में कोई बदलाव नहीं होगा, ये आत्महत्या करने जैसा होगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हमारे देश का संविधान एक सामाजिक दस्तावेज है और यह केवल बाबा साहेब अंबेडकर की वजह से ऐसा हो पाया नहीं तो हमारा संविधान कानूनी दस्तावेज बनकर रह जाता। संसद के शीतकालीन सत्र के आज दूसरे दिन पीएम नरेंद्र मोदी संविधान पर हो रही चर्चा का लोकसभा में जवाब दे रहे थे।

गुरुवार को सत्र के पहले दिन केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने संविधान पर हो रही चर्चा पर अपनी बात सदन में रखी थी। गुरुवार को सांसद खेखिहो झिमोमी के निधन के बाद राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी गई थी।

सत्र की शुरूआत के पहले दिन संविधान दिवस पर विशेष चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लोकसभा में लगभग पूरे दिन मौजूद रहे थे, जिस पर कांग्रेस ने कहा कि ऐसा करके प्रधानमंत्री ने एक रिकॉर्ड बना दिया है।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को संविधान निर्माता डॉ अंबेडकर के योगदान को याद किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब ने हमेशा देश को जोड़े रखने के लिए कार्य किया और देश को एकता के सूत्र में पिरोया।

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget